april, 2021

27apr5:00 am12:00 pmFeaturedSing for Hanuman

Event Details

Sing for Hanuman

Record yourself alone or with your friends/family singing the Hanuman Chalisa for Hanuman to play live on Hanuman Jayanti on April 27! Video record on your phone or camera and submit to Bhakti Marga India.
अकेले रिकॉर्डिंग करिए या अपने मित्र/ परिवारजन के साथ हनुमान चालीसा गाइए अप्रैल 27 ,हनुमान जयंती के लिए !
विडीओ रिकॉर्ड करिए अपने फ़ोन या कैमरा पर और भक्ति मार्ग इंडिया को भेजिए ।
On Hanuman Jayanti, the ashram celebrates the appearance of Hanuman by singing the Hanuman Chalisa 108 times. This year we are opening up the tradition to everyone online so that you can express your love and gratitude.
हनुमान जयंती पर हम आश्रम में हनुमान जी का अवतीर्ण दिवस मनाते हैं 108 बार हनुमान चालीसा गा कर । इस वर्ष हम यह परम्परा सब के लिए ऑनलाइन खोल रहे हैं ताकि सब अपना प्रेम और आभार व्यक्त कर सकें ।
The Hanuman Chalisa, written by Goswami Tulsidas, praises Hanuman for his humility and service to Lord Ram. Hanuman is the wisest, most clever and virtuous devotee, but the biggest praise is of his humility for he only focused on serving Rama. He has the power to help devotees to purify the body, transcend the mind and lead the soul to the feet of Bhagavan.
गोस्वामी तुलसीदास जी द्वारा रचित हनुमान चालीसा , हनुमान जी की विनम्रता और प्रभु श्री राम के प्रति उनकी सेवा की स्तुति करती है । हनुमान जी सबसे बुद्धिमान,सुजान और सदाचारी भक्त हैं परंतु उनकी स्तुति उनकी विनम्रता के लिए की जाती है क्योंकि श्री राम की सेवा ही उनका सर्वोच्च धर्म है ।उनमें शक्ति है कि वे भक्त का शरीर स्वच्छ ,मन शुद्ध कर आत्मा को भगवान के चरणों तक पहुँचा सकें ।
At Shree Giridhar Dham, Hanuman is depicted in a merged deity with Garuda, as they both are eternal servants of the Lord. Hanugaruda is the only deity facing Giridhari, because their intention is only for service.
श्री गिरिधर धाम में , हनुमान जी और गरुड़ जी की प्रतिमा संविलीन है क्योंकि वे दोनो भगवान के अनंत सेवक हैं ।हनुगरूड की ही केवल ऐसी प्रतिमा है जिसका मुख गिरिधारी जी की ओर है , क्योंकि उनका उद्देश्य केवल सेवा करना है ।
Singing for Hanumanji on his appearance day is a beautiful way to request his protection and guidance to become truly humble devotees. The more people that participate in this auspicious event, the more pleased Hanuman will be. Hanuman does not care about how well you sing, but that you sing from your heart, so please don’t be shy and express your love to him!
हनुमान जी के लिए उनके अवतीर्ण दिवस पर गाना एक सुंदर माध्यम है उनसे संरक्षण और मार्गदर्शन के लिए विनती करने के लिए ताकि हम भी विनयशील भक्त बन सकें । जितने लोग इस शुभ दिवस पर भाग लेंगे , उतना ही हनुमान जी प्रसन्न होंगे। हनुमान जी को इससे कोई मतलब नहीं की आप कैसा गाते हैं , केवल इससे की आप दिल से गा रहे हैं । तो कृपया करके बेजिझक उनसे अपना प्रेम व्यक्त करिए ।
Accepting recordings to bhaktimargaindia@gmail.com until April 20th!
Register here: https://bhaktimarga.in/hanuman-chalisa-2021/
हम रिकॉर्डिंग को यहाँ स्वीकार कर रहे हैं
bhaktimargaindia@gmail.com
20 अप्रैल तक !
पंजीकरण करिए https://bhaktimarga.in/hanuman-chalisa-2021/

more

Time

(Tuesday) 5:00 am - 12:00 pm

Organizer

Rishika Abirami+91 8650789778

X